//दूसरी #Corona_Vaccine को मिली मंजूरी

दूसरी #Corona_Vaccine को मिली मंजूरी

शुरुआती ट्रायल के बाद मिली मंजूरीस, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने की घोषणा


Russia ने सुनाई एक और खुशखबरी : दूसरी #Corona_Vaccine को मिली मंजूरी

कोरोना संकट के बीच रूस ने एक और सफलता हासिल कर ली है। कोरोना वायरस के नए मामलों में हो रही वृद्धि के बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (President Vladimir Putin) ने घोषणा की है कि रूस ने अपनी दूसरी कोरोना वैक्सीन को रजिस्टर करा लिया है। रूस में सरकार ने इस वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। पुतिन ने कहा कि स्पुतनिक V के बाद रूस ने एक और कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। रूस ने शुरुआती ट्रायल के बाद दूसरी कोरोना वायरस वैक्‍सीन को मंजूरी दे दी है। इस वैक्सीन का नाम EpiVacCorona है।

ये भी पढे़ं – HP Covid-91 Update: 18 हजार के पार पहुंचे कुल मामले; आज 232 हुए ठीक

 

राष्ट्रपति पुतिन ने कैबिनेट सदस्यों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video conference) के दौरान इसकी घोषणा की। पुतिन ने कहा कि नोवोसिबिर्स्क वेक्टर सेंटर ने आज कोरोना के खिलाफ दूसरी रूसी वैक्सीन रजिस्टर्ड की है। व्लादिमीर पुतिन ने सरकारी अधिकारियों के साथ एक टीवी बैठक के दौरान यह घोषणा की। पुतिन ने कहा कि हमें अब पहले टीके और दूसरे टीके का उत्पादन बढ़ाने की जरूरत है। पुतिन ने कहा कि प्राथमिकता यह है कि अब वैक्सीन को बाजार की आपूर्ति के हिसाब से उतारा जाए।

 

 

रूस ने इससे पहले 11 अगस्त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन Sputnik-V को रजिस्टर कराया था। अब करीब दो महीने बाद रूस के वैज्ञानिकों ने एक बार फिर दूसरी वैक्सीन को भी रजिस्टर कराया है। रूसी अधिकारियों ने प्रारंभिक चरण के अध्ययन के बाद दूसरा कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इससे पहले अगस्त में कहा था कि उनके देश ने स्पुतनिक-V नाम की पहली कोरोना वैक्सीन रजिस्टर कर ली है। फिलहाल ये वैक्सीन अपने ट्रायल के आखिरी चरण में है। हालांकि, दुनिया के कई वैज्ञानिकों ने इस वैक्सीन को जल्दबाजी में उतारी गई वैक्सीन बताते हुए इसकी आलोचना भी की थी। फिलहाल कुछ नहीं कुछ बेहतर है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

loading…



Source link

I am a doctor from Himachal. settled outside Himachal and hungry for news about Himachal.