//कोर्ट ने स्वीकारी श्री कृष्ण जन्मभूमि से सटी मस्जिद को हटाने की याचिका, अब 18 नवंबर को सुनवाई

कोर्ट ने स्वीकारी श्री कृष्ण जन्मभूमि से सटी मस्जिद को हटाने की याचिका, अब 18 नवंबर को सुनवाई

अयोध्या में रामलला को इंसाफ मिलने के बाद मथुरा में भी तेज हुई भगवान कृष्ण को न्याय दिलाने की लड़ाई


#Mathura: कोर्ट ने स्वीकारी श्री कृष्ण जन्मभूमि से सटी मस्जिद को हटाने की याचिका, अब 18 नवंबर को सुनवाई

मथुरा। अयोध्या में राम जन्मभूमि में मंदिर निर्माण की तैयारियों के बीच मथुरा (Mathura) में भी श्री कृष्ण जन्म भूमि (Shree Krishna Janmbhoomi) को लेकर इंसाफ की लड़ाई तेज हो गई है। यहां पर श्री कृष्ण जन्म भूमि का मालिकाना हक पाने के लिए श्री कृष्ण विराजमान की ओर से जिला जज की अदालत में शुक्रवार को अपील की गई थी। कोर्ट की तरफ से इस अपील को स्वीकार कर लिया गया है और मामले की अगली सुनवाई की तारीख 18 अक्टूबर 2020 तय की गई है। बता दें कि इस याचिका में श्री कृष्ण जन्म स्थान के समीप बने ईदगाह को हटाने की मांग की गई है। अब इस याचिका पर जिला अदालत में मुकदमा चलेगा। रिपोर्ट्स के अनुसार यहां पर श्री कृष्ण जन्मभूमि प्रांगण से सटी शाही मस्जिद हटाने की मांग पर विपक्षियों को नोटिस जारी किए जाएंगे। मामले की सुनवाई पूरी होने के बाद वादी पक्ष के वकील विष्णु जैन ने यह जानकारी दी।

फले कोर्ट ने कहा था- भक्तों को दावा करने का अधिकार नहीं

कुछ दिनों पहले सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत में श्री कष्ण जन्मस्थान सेवा संघ और शाही मस्जिद ईदगाह कमेटी के बीच 1968 में हुए समझौते को रद्द कर मस्जिद को हटाने तथा सारी जमीन श्री कृष्ण जन्मभूमि ट्रस्ट को सौंपने की मांग की गई थी। हालांकि 30 सितंबर को हुई सुनवाई के बाद सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत ने इस दावे को खारिज करते हुए कहा था कि भक्तों का दावा करने का कोई अधिकार नहीं है। जिसके बाद आज इसी मामले में जिला जज की अदालत ने सुनवाई के बाद इस अपील को स्वीकार कर लिया है। वादी के वकील विष्णु शंकर जैन ने कहा कि उनका दावा मजबूत है। गौरतलब है कि अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि के लिए जारी लड़ाई वर्षों के बाद सफल होने के बीच मथुरा में भी श्री कृष्ण जन्म भूमि को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं।

यह भी पढ़ें: नवरात्र के लिए #Himachal के मंदिर तैयार, इन कार्यों पर रहेगा पूर्ण प्रतिबंध

इसी कड़ी में बीते कल गुरुवार को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी और हनुमानगढ़ी के महंत धर्मदास, अयोध्या निर्वाणी अखाड़ा के महंत राजेंद्र दास, मथुरा वृंदावन अखाड़ा के हरिशंकर नागा श्री कृष्ण जन्मस्थान पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने यहां पर श्री कृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव कपिल शर्मा और सदस्य गोपेश्वर नाथ चतुर्वेदी से मुलाकात की और मंदिर के दर्शन भी किए। इस मुलाकात के बारे में जानकारी देते हुए गोपेश्वर नाथ चतुर्वेदी ने बताया कि उन्होंने संतो को मंदिर की नीव पर बनी शाही ईदगाह मस्जिद दिखाई और इस पर चर्चा की।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

loading…



Source link

I am a doctor from Himachal. settled outside Himachal and hungry for news about Himachal.