//अभी तो छूटी थीं… एक बार फिर हिरासत में ली गईं महबूबा; PDP का दफ्तर सील

अभी तो छूटी थीं… एक बार फिर हिरासत में ली गईं महबूबा; PDP का दफ्तर सील

बोलीं- हम सामूहिक रूप से अपनी आवाज उठाना जारी रखेंगे


J&K: अभी तो छूटी थीं… एक बार फिर हिरासत में ली गईं महबूबा; PDP का दफ्तर सील

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) की पूर्व सीएम और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) और उनकी पार्टी के इन दिनों बुरे दिन चल रहे हैं। साल भर से अधिक समय तक नजरबंद रहने के बाद हाल ही में महबूबा को रिहा किया गया ही था कि अब एक बार फिर उन्हें उनके समर्थकों के साथ हिरासत में ले लिया गया है। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में जमीन की खरीद फरोख्त को लेकर केंद्र सरकार द्वारा जिन नए नियमों को मंजूरी दी गई है। उन्हीं नियमों के खिलाफ महबूबा अपने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन कर रही थीं। जिसके बाद पुलिस द्वारा यह कार्रवाई की गई।

पुलिस ने शुरू होने से पहले ही नाकाम कर दिया प्रदर्शन

बताया गया कि पीडीपी कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को श्रीनगर स्थित पार्टी मुख्यालय से नए भूमि कानून के विरोध में प्रोटेस्ट रैली का आयोजन किया था। जैसे ही पार्टी के नेता और कार्यकर्ता इस आयोजन के लिए मुख्यालय पहुंचे उन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस द्वारा पीडीपी कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन को पूरी तरह से नाकाम कर दिया। अब तक दर्जनों कार्यकर्ताओं और नेताओं को हिरासत में लिया गया है। इसके साथ ही पुलिस ने पीडीपी के श्रीनगर स्थित मुख्यालय को सील कर दिया है।

यह भी पढ़ें: #Shimla : कैपिटल होटल के Top Floor में लगी भयंकर आग, तीन कमरे जलकर राख

पुलिस की इस कार्रवाई का पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने विरोध किया है। अपने ट्विटर हैंडल पर पार्टी नेताओं की गिरफ्तारी का जिक्र करते हुए उन्होंने लिखा, ‘जम्मू और कश्मीर पुलिस ने आज पारा वाहिद, खुर्शीद आलम, राउफ भट, मोसिन क्यूम को उस समय हिरासत में ले लिया जब वे भूमि संबंधी कानूनों का विरोध करने के लिए एकत्र हुए थे। हम सामूहिक रूप से अपनी आवाज उठाना जारी रखेंगे और जनसांख्यिकी को बदलने के प्रयासों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।’

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

loading…



Source link

I am a doctor from Himachal. settled outside Himachal and hungry for news about Himachal.