//गोबिंद सागर झील में प्रशिक्षु सीख रहे वाटर स्पोटर्स से संबंधित खेलों की बारीकियां

गोबिंद सागर झील में प्रशिक्षु सीख रहे वाटर स्पोटर्स से संबंधित खेलों की बारीकियां

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बिलासपुर। गोबिंद सागर झील में अटल विहारी वाजपेयी पर्वतारोहण संस्थान मनाली और वाटर स्पोर्ट्स सेंटर बिलासपुर की ओर से वाटर स्पोर्ट्स का वेसिक और एडवांस प्रशिक्षण शिविर लगाया गया है। इसमें 14 दिन तक वेसिक और 21 दिन तक एडवांस कोर्स चलेगा। शिविर में 32 प्रशिक्षु भाग ले रहे हैं। इन्हें जिला बिलासपुर से वाटर स्पोर्ट्स प्रशिक्षक जमना ठाकुर और पौंग डैम से आए प्रशिक्षक गिमनर, संजीव चौधरी और वीरेंद्र की ओर से प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
स्पोर्ट्स प्रशिक्षक जमना ठाकुर ने बताया गया कि वाटर स्पोर्ट्स शिविर 2 नंवबर तक चलेगा। वहीं शिविर में बिलासपुर, हमीरपुर, ऊना, कांगड़ा, कुल्लू और मंडी से प्रशिक्षु प्रशिक्षण शिविर में भाग लेकर वाटर स्पोर्ट्स से संबंधित खेलों की बारीकियां सीख रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण शिविर को दो भागों में बांटा गया है, जिसमें बेसिक और एडवांस कोर्स की तैयारी करवाई जा रही है। इनमें बेसिक कोर्स में छात्रों को पानी में तैरना और दूसरों की जिंदगी को पानी से बचाने की तैयारी करवाई जा रही है। यह कोर्स 2 नवंबर तक चलेगा।
वहीं, एडवांस कोर्स में सेलिंग बोट को चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। शिविर में छात्रों को कायकिंग और केनोइंग नाव की जानकारी और उसे चलाने का अभ्यास कराया जा रहा है। जिसमें बोट में घुटनों के बल बैठ कर संतुलन बना कर आगे बढ़ना होता है। यह खेल ओलंपिक गेम में भी खेला जाता है। जमना ठाकुर ने बताया कि यह एक मुश्किल खेल है। जिसमें जरा सी गलती पर चालक सीधा पानी में गिर जाता है। यह कोर्स 21 दिन तक चलेगा। शिविर में युवतियां भी भाग ले रही हैं। विभिन्न जिलों से आए प्रशिक्षु गोबिंद सागर झील की खूबसूरती को लेकर काफी उत्साहित हैं।

बिलासपुर। गोबिंद सागर झील में अटल विहारी वाजपेयी पर्वतारोहण संस्थान मनाली और वाटर स्पोर्ट्स सेंटर बिलासपुर की ओर से वाटर स्पोर्ट्स का वेसिक और एडवांस प्रशिक्षण शिविर लगाया गया है। इसमें 14 दिन तक वेसिक और 21 दिन तक एडवांस कोर्स चलेगा। शिविर में 32 प्रशिक्षु भाग ले रहे हैं। इन्हें जिला बिलासपुर से वाटर स्पोर्ट्स प्रशिक्षक जमना ठाकुर और पौंग डैम से आए प्रशिक्षक गिमनर, संजीव चौधरी और वीरेंद्र की ओर से प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

स्पोर्ट्स प्रशिक्षक जमना ठाकुर ने बताया गया कि वाटर स्पोर्ट्स शिविर 2 नंवबर तक चलेगा। वहीं शिविर में बिलासपुर, हमीरपुर, ऊना, कांगड़ा, कुल्लू और मंडी से प्रशिक्षु प्रशिक्षण शिविर में भाग लेकर वाटर स्पोर्ट्स से संबंधित खेलों की बारीकियां सीख रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण शिविर को दो भागों में बांटा गया है, जिसमें बेसिक और एडवांस कोर्स की तैयारी करवाई जा रही है। इनमें बेसिक कोर्स में छात्रों को पानी में तैरना और दूसरों की जिंदगी को पानी से बचाने की तैयारी करवाई जा रही है। यह कोर्स 2 नवंबर तक चलेगा।

वहीं, एडवांस कोर्स में सेलिंग बोट को चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। शिविर में छात्रों को कायकिंग और केनोइंग नाव की जानकारी और उसे चलाने का अभ्यास कराया जा रहा है। जिसमें बोट में घुटनों के बल बैठ कर संतुलन बना कर आगे बढ़ना होता है। यह खेल ओलंपिक गेम में भी खेला जाता है। जमना ठाकुर ने बताया कि यह एक मुश्किल खेल है। जिसमें जरा सी गलती पर चालक सीधा पानी में गिर जाता है। यह कोर्स 21 दिन तक चलेगा। शिविर में युवतियां भी भाग ले रही हैं। विभिन्न जिलों से आए प्रशिक्षु गोबिंद सागर झील की खूबसूरती को लेकर काफी उत्साहित हैं।



Source link

I am a doctor from Himachal. settled outside Himachal and hungry for news about Himachal.