//PM मोदी ने लॉन्च की अहमदाबाद से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लिए भारत की पहली सीप्लेन सेवा

PM मोदी ने लॉन्च की अहमदाबाद से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लिए भारत की पहली सीप्लेन सेवा

 स्पाइसजेट द्वारा संचालित 30 मिनट की उड़ान का एकतरफा शुरुआती किराया 1,500 रुपए है


PM मोदी ने लॉन्च की अहमदाबाद से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लिए भारत की पहली सीप्लेन सेवा

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को केवडिया (गुजरात) में दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ को अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट से जोड़ने वाली भारत की पहली सीप्लेन सेवा (Seaplane Service) शुरू की। पीएम मोदी ने केवड़िया में जल हवाई अड्डे का उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद पीएम ने सीप्लेन में बैठकर स्टैच्यू से अहमदाबाद की यात्रा की। नरेंद्र मोदी इस सी प्लेन के पहले पैसेंजर बने। स्पाइसजेट द्वारा संचालित 30 मिनट की उड़ान का एकतरफा शुरुआती किराया 1,500 रुपए है।

यहां जानें इस सी-प्लेन की खासियत

आपको बता दें कि सी-प्लेन पानी और हवा दोनों जगह उड़ान भर सकता है। इसको लैंडिंग के लिए किसी तरह के रनवे की जरूरत नहीं होती है। यह सी-प्लेन महज 30 मिनट में 200 किमी की दूरी (केवडिया से साबरमती) तय करेगा। सी प्लेन कई मायनों में खास है। ये हल्का होता है और कम ईंधन में उड़ान भर सकता है। सी प्लेन असल में ट्विन ऑट्टर 300 सी-प्लेन है। इसका वजन 3,377 किलो है। इसमें 1,419 लीटर तक पेट्रोल भरा जा सकता है। हर एक घंटेकी उड़ान के लिए लिए ये सिर्फ 272 लीटर पेट्रोल खर्च करता है।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रीय संदर्भ में लें निर्णय, जो देश की एकता अखंडता को मजबूत करने वाले हों: IAS प्रोबेशनर्स से बोले PM

इससे पहले, पीएम मोदी 2017 गुजरात विधानसभा चुनाव के प्रचार के आखिरी दिन सी प्लेन की यात्रा करते नजर आए थे। तब पीएम ने साबरमती नदी से मेहसाणा जिले के धरोई बांध तक सी प्लेन का सफर किया था। काफी लोग इस बात के गवाह बने थे, लेकिन अब यही अनूठा सी प्लेन गुजरात में आम होगा। नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में सी-प्लेन प्रोजेक्ट की गिनती होती है। अब इसे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से जोड़ दिया गया है। ये सी-प्लेन बीते दिन ही मालदीव से कोच्चि पहुंचा था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

loading…





Source link

I am a doctor from Himachal. settled outside Himachal and hungry for news about Himachal.